भारत सरकार ने लांच किया “आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप” – Govt of India Launches “Arogya Setu” app to counter COVID-19 pandemic.

0
241
Aarogya_singraulify.com

भारत सरकार ने लांच किया “आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप”

जब सम्पूर्ण विश्व कोरोना के विरुद्ध अपने अपने तरीके से लड़ाई लड़ रहा है,उसी बीच भारत सरकार ने भी आधुनिक तकनीक का प्रयोग करते हुए “आरोग्य सेतु” नामक मोबाइल ऐप लंच किया है।

जब आप अपने स्मार्टफोन के प्ले स्टोर पर जाएंगे तो वहां पर आपको कोरोनावायरस से संबंधित बहुत सारे ऐप्स मिलेंगे।बहुत से राज्य सरकारों ने भी कई एप्स लॉन्च किये हैं।पूर्व में केंद्र सरकार ने भी कोरोना से संबंधित “Corona Kavach” नाम का ऐप लॉन्च किया था परंतु अब भारत सरकार ने नई तकनीक और ज्यादा आधुनिक ऐप “आरोग्य सेतु” लॉन्च किया है। इस ऐप के माध्यम से कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों को ट्रैक किया जा सकता है और यह भी जाना साथ जा सकता है की उनके द्वारा आपको संक्रमित करने की कितनी सम्भावना है। इस ऐप को भारत सरकार के मंत्रालय MeitY (Ministry of Electronics and Information Technology ) द्वारा बनाया गया है। पूर्व में बनाये गए ऐप “कोरोना  कवच” को भी इसी विभाग द्वारा बनवाया गया था। “आरोग्य सेतु” का मुख्य उद्देश्य नागरिकों को कोरोना के संबंध में जागरूक करना है और उन्हें Real Time आंकड़ों से अवगत कराना है। इसके अलावा इस ऐप का एक और मुख्य उद्देश्य है जिससे यह पता लगने में सहायता मिलती है कि क्या आप कभी किसी कोरोना से संक्रमित व्यक्ति के आस पास से गुजरे हैं या संपर्क में आए हैं? इसके लिए यह ऐप आपके स्मार्टफोन की लोकेशन व ब्लूटूथ का उपयोग करता है।

कैसे काम करती है यह ऐप।

कैसे काम करती है यह ऐप: जब आप गूगल या एप्पल के प्ले स्टोर में जाकर आरोग्य सेतु ऐप को डाउनलोड करेंगे तो वह सबसे पहले आपसे अपने लोकेशन को ऑन करने की सहमति लेनी जिसके बाद यह ऐप आपको कोरोना से संबंधित सारी जानकारी प्रदान करती रहेगी। मूल रूप से यह कहा जा सकता है कि यह  ऐप एक Location Based Surveillance App है। महत्वपूर्ण बात यह है कि यह ऐप न केवल भारत में जबकि संपूर्ण विश्व में कार्य करता है। एक और अच्छी बात इस ऐप में यह है कि कि आपको इसमें हर राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों के कोरोना संबंधित हेल्पलाइन नंबर भी उपलब्ध रहेंगे। इस एप के द्वारा कुछ प्रश्नों का जवाब देकर आप यह भी जान सकते हैं पर आप कोरोना संक्रमण के प्रति कितने रिस्क में है या करुणा संक्रमण का आप पर कितना प्रभाव हो सकता है। यह जानकारी आपके उम्र,खानपान और दिनचर्या के आधार पर प्रदान की जाएगी।

 

क्या आपकी निजिता का हनन है ?

क्या आपकी निजिता का हनन है ? :इलेक्ट्रॉनिक फ्रंटियर फाउंडेशन नामक एक एनजीओ ने इस ऐप को लेकर चिंताएं भी जताई है। यह एनजीओ लोगों के निजिता के रक्षा के संबंध कार्य करती है और उनका कहना है कि इस ऐप द्वारा भारत सरकार व्यक्ति विशेष के निजिता का हनन कर सकती है। जबकि, जब आप यह ऐप डाउनलोड करेंगे उस समय एक disclaimer भी भारत सरकार द्वारा दिया गया है जिसमें इस बात को सुनिश्चित किया गया है कि आपकी जानकारी सिर्फ भारत सरकार के पास ही रहेगी तथा अन्य किसी संस्था को यह जानकारी नहीं दी जाएगी। मैंने स्वयं इस ऐप को प्रयोग किया है तथा पाया कि यह निश्चित रूप से करोना के खिलाफ लड़ाई में कारगर सिद्ध होगा। आप भी इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर या एप्पल प्ले स्टोर से डाउनलोड करें वह इस ऐप का लाभ उठाएं ताकि आप और आपका परिवार कोरोना के संक्रमण से सुरक्षित रह सके। यह ऐप भारत की 11 क्षेत्रीय भाषाओं में उपलब्ध है।   – Sh.S.C.Sinha

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here